SSC CGL ऑनलाइन परीक्षा 2017: जल्द जारी होगी अधिसूचना, सफलता प्राप्ति के लिए जरूर जानें ये टिप्स

0
671

कर्मचारी चयन आयोग की ओर से हर साल आयोजित की जाने वाली संयुक्त स्नातक स्तरीय परीक्षा में लाखों उम्मीदवार भाग लेते हैं लेकिन हर साल फरवरी में जारी होने वाला नोटिफिकेशन अभी तक भी जारी नहीं किया गया है और बताया जा रहा है कि जल्द ही इस परीक्षा के लिए नोटिफिकेशन जारी कर आवेदन शुरू कर दिए जाएंगे। एसएससी ने सीजीएल में प्रवेश करने  के लिए ऑनलाइन परीक्षा का आयोजन शुरु किया है।

ऑनलाइन परीक्षाएं: चयन के लिए क्या रणनीति अपनाएं

जैसे की परीक्षाएं ऑनलाइन होती जा रही हैं, सफल होने के लिए छात्रों को उसी अनुसार तैयारी करनी होगी। इसे प्रभावशाली तरीक से करने के लिए नीचे दी जा रही सरल रणनीतियां अपनाई जा सकती हैं–

  • कंप्यूटर का बुनियादी उपयोगकर्ताः कभी– कभी, ग्रामीण परिवेश के छात्र ये सोच बैठते हैं कि ऑनलाइन परीक्षाओं में सफल होने के लिए आपको कंप्यूटर का गहरा ज्ञान होना चाहिए। ऐसा कुछ नहीं है, यह बहुत सरल है क्योंकि आपको सभी कुछ उपलब्ध कराया जाएगा और आपको सिर्फ निर्देशों का पालन करना होगा।

 

  • विषय के ज्ञान का निरंतर अभ्यासः ऑनलाइन परीक्षा ऑफलाइन परीक्षा के जैसे ही विषय के ज्ञान की परीक्षा होती है। इसलिए कंप्यूटर आधारित परीक्षा या ऑफलाइन परीक्षा के बारे में सोचने की बजाय परीक्षा में पूछे जाने वाले विषयों की तैयारी में ध्यान लगाएं।

 

  • ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर नियमित अभ्यासः ऑनलाइन परीक्षा में सफलता का यह महत्वपूर्ण पहलू है क्योंकि यदि आप ऑनलाइन परीक्षा के पैटर्न से परिचित हैं तो परीक्षा कक्ष में विषयों पर ध्यान केंद्रित करना आसान हो जाता है।

 

  • समय प्रबंधनः कंप्यूटर की घड़ी की टिक– टिक के साथ समय का ध्यान रखने में आपकी प्रवीणता बहुत जरुरी है, इसलिए समय का बुद्धिमत्तापूर्ण और उचित प्रबंधन करना सीखें l इसलिए किस खंड को पहले हल करना है और उसके बाद किस खंड को, इसके बारे में मन में योजना बनना अच्छा रहता है।

 

  • निर्देशों का प्रतिमिनट पालन करें: ऑनलाइन परीक्षा में अगर आपको कोई समस्या आ रही है तो तत्काल प्रशिक्षक के पास जाएं । निरीक्षक  द्वारा दिए गए निर्देशों का पालन करना बहुत महत्वपूर्ण है क्योंकि कंप्यूटर के मामले में किसी समस्या को दूर करना बहुत मुश्किल होता है।

 

  • जिन प्रश्नों का जवाब आता हो उसे पहले हल कर लें– हमेशा आसान/ पूर्व– हल किए गए प्रश्नों को पहले बनाएं और कठिन प्रश्नों को समीक्षा (रिव्यू) के लिए छोड़ दें एवं कठिन प्रश्नों अंतिम समय में हल करने का प्रयास करें अगर उसके सही उत्तर के विषय में आपको पूर्ण जानकारी नहीं हैं तो उसे हल ही न करें क्योंकि ये समय तो बर्बाद कराएंगे हीं आपको हतोत्साहित भी कर देंगे।

अंतिम समय में घबरा जाना- परीक्षा में आखिर-आखिर में बचा समय मैथ्स सेक्शन के लिए रखा जाना चाहिए। या फिर इस दौरान, दिए गए उत्तरों को एक बार चैक कर लेना चाहिए।

मैथ्स के लिए 1 घंटे से अध‍िक देना- आम तौर पर परीक्षार्थियों को मैथ्स के प्रश्न हल करना आसान लगता है और इस सेक्शन को वरीयता देते हुए वे इसमें इतने रम जाते हैं कि इसके पीछे 60 से 80 मिनट खर्च कर डालते हैं। एक सेक्शन के पीछे इतना समय देना ठीक नहीं है। टाइम मैनेजमेंट पर ध्यान दें।

शॉर्ट-कट्स पर निर्भर रहना- उम्मीदवार हर तरह के प्रश्नों को हल करने के लिए शॉर्ट-कट ट्रिक्स सीखना चाहते हैं। मगर यह भी जान लें कि अगर आप 100 तरह की ट्रिक्स सीख लेंगे, तो इन ट्रिक्स को याद रखने में ही कंफ्यूज हो जाएंगे। नतीजा यह होगा कि आप सरल प्रश्नों को भी ठीक से हल नहीं कर पाएंगे।

जनरल इंटेलिजेंस

– इस सेक्‍शन में वर्बल और नॉन-वर्बल दोनों तरह के क्वेश्‍चंस शामिल होंगे। इसके सिलेबस को कवर करने के लिए जरूरी है कि हर टॉपिक की प्रॉपर प्रैक्टिस की जाए।

– इस सेक्‍शन में एनालॉगीज, डिसीजन मेकिंग, जजमेंट, विजुअल मेमोरी, सिमेंटिक क्लासिफिकेशन, न्यूमेरिकल ऑपरेशंस जैसे टॉपिक्स की प्रैक्टिस करें।

– रीजनिंग के क्वेश्‍चंस को ध्यान से पढ़ने की हैबिट डेवलप करें क्योंकि इसके क्वेश्‍चंस कैंडिडेट्स को कंफ्यूज कर सकते हैं।

इंग्लिश लैंग्‍वेज

इस सेक्‍शन में इंग्लिश ग्रामर और वोकैबुलरी मेजर रोल प्ले करती है। इस सेक्‍शन की प्रिपरेशन में इन बातों का ध्यान रखें-

– कॉम्प्रिहेंशन की ज्यादा प्रैक्टिस करें क्योंकि इसमें स्कोर करना ईजी होता है। रोज एक कॉम्प्रिहेंशन की प्रैक्टिस जरूर करें।

– इंग्लिश न्यूजपेपर पढ़ने की हैबिट डेवलप करें। इससे आपकी वोकैबुलरी और ग्रामर दोनों इंप्रूव होगी।

– कॉमन एरर, सेंटेंस करेक्‍शन, एंटॉनिम्स, सिनॉनिम्स जैसी एक्सरसाइजेस की प्रैक्टिस जरूर करें। इनके कॉन्सेप्ट्स अगर क्लीयर नहीं हैं तो उन्हें भी क्लीयर करें।

क्‍वाॅन्‍टिटेटिव एप्टिट्यूट

– इस सेक्‍शन में मैथमैटिकल क्वेश्‍चंस पूछे जाते हैं। इस सेक्‍शन की प्रिपरेशन स्टार्ट करने से पहले इसका सिलेबस जरूर चेक करें।

– जिस भी टॉपिक की प्रैक्टिस स्टार्ट करें पहले उसके कॉन्सेप्ट क्लीयर करें और फिर उन क्वेश्चंस को करने की स्पीड इंप्रूव करें।

– सभी टॉपिक्स के बेसिक फॉर्मूले जरूर पढ़ें। जिन टॉपिक्स में शॉर्ट ट्रिक्स का यूज होता है उनकी शॉर्ट ट्रिक्स की प्रैक्टिस करें। बिना शॉर्ट ट्रिक्स के इस सेक्‍शन में मैक्सिमम क्वेश्चन सॉल्व करना मुश्किल हो सकता है।

जनरल अवेयरनेस

इस सेक्‍शन को एसएससी 10+2 में सबसे ज्यादा स्कोरिंग और टाइम सेविंग माना जाता है। जनरल अवेयरनेस में कमांड पाने के लिए-

– इस सेक्‍शन में इंपॉर्टेंट डेज, इंपॉर्टेंट पर्सनालिटीज, अवॉर्ड विनर्स, बुक्स एंड ऑथर्स, स्पोर्ट्स, एब्रीविएशंस जैसे एरियाज पर ज्यादा ध्यान दें।

– पिछले 6 से 7 महीनों में हुए नेशनल और इंटरनेशनल इवेंट्स के बारे में पढ़ें। इसके लिए किसी अच्‍छी जीए मैगजीन या बुक को रिफर करें।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here